Rajgarh, m.p.:- Beti Bacho Sashakt Banao.

*सशक्तिकरण का शिक्षा ही विकल्प – मोना सुस्तानी*
प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय राजगढ़ द्वारा समीपस्थ ग्राम *”सरेड़ी “में अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस ” बेटी बचाओ सशक्त बनाओ”* -थीम को लेकर मनाया गया ।कार्यक्रम की शुरुआत जिला ट्रेजरी अधिकारी आशीष नंदन, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी श्याम बाबू खरे ,धाकड़ समाज की राष्ट्रीय अध्यक्षा मोना सुस्तानी ,तथा ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की राजगढ़ जिला प्रभारी ब्रह्माकुमारी मधु दीदी ने मां सरस्वती की पूजन व दीप प्रज्ज्वलन से की । ब्रम्हाकुमारी मधु दीदी ने बताया कि बालिकाओं को तन के साथ-साथ मन से भी सशक्त होने की जरूरत है आंतरिक शक्तियों तथा गुणों को जागृत करना ही सही सच्चे अर्थों में सशक्तिकरण है आगे कहां की हमें सहन करने के साथ-साथ अन्याय के प्रति आवाज उठाना भी जरूरी है । श्याम बाबू खरे ने बताया की बालिकाएं अपने अधिकारों के लिए आगे आए तथा समाज में प्रचलित कुप्रथाये जैसे- बाल विवाह, बेमेल विवाह, नाता प्रथा झगड़ा प्रथा का विरोध करें ।मोना सुस्तानी ने कहा कि जब तक हम शिक्षित नहीं होंगे तब तक समाज हमारी उपेक्षा करता रहेगा इसके लिए हमें आगे भी पढ़ना है और हमारे आसपास की सभी लड़कियों को पढ़ने के लिए प्रेरित करना तथा झगड़ा, नातरा ,बाल विवाह जैसी प्रथाओं का मिलकर विरोध करना है। जिला ट्रेजरी अधिकारी ने आंतरिक चेतना को जागृत कर सशक्तीकरण करने की बात कही । “सेम फ्री अभियान” के तहत एक कुपोषित बालिका पूजा को ट्रेजरी अधिकारी ने गोद लिया तथा सामग्री प्रदान की गई। समाज को जागरूक करने हेतु हाई स्कूल से मिडिल स्कूल सरेड़ी तक “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ जागरूकता रैली” भी निकाली गई। इस अवसर पर आंगनवाड़ी सुपरवाइजर , दोनों आंगनवाड़ी केंद्रों की कार्यकर्ता ,सहायिकाये, आशा कार्यकर्ता , स्कूल के समस्त बच्चे , स्कूल स्टाफ तथा ग्रामीण महिला पुरुष उपस्थित रहे। अंत में सभी को बेटियों को बराबर अधिकार देने ,पढ़ाने तथा आगे बढ़ाने की श्याम बाबू खरे सर द्वारा शपथ दिलाई गई।